technology

भारत सरकार का फरमान, फोन पर न करें ये 10 काम, नहीं तो बैंक अकाउंट हो जाएगा खाली

नई दिल्ली। भारत सरकार की नोडल साइबर सुरक्षा एजेंसी Cert-In ने Android यूजर्स के लिए एक चेतावनी जारी की है। दरअसल सरकार ने एक नए SOVA Android Trojan की पहचान की है, जो भारतीय बैंकिंग यूजर्स को टारगेट कर रहा है। यह बैंकिंग ट्रोजन की-लॉगिंग के जरिए यूजर यूजरनेम और पासवर्ड चुरा रहा है। कुकीज़ भी चुरा रहे हैं। इससे पहले SOVA बैंकिंग ट्रोजन अमेरिका, रूस और स्पेन जैसे देशों में सक्रिय था। लेकिन जुलाई 2022 से यह बैंकिंग ट्रोजन भारत जैसे देशों पर हमला कर रहा है।

यह मैलवेयर बहुत खतरनाक है
भारत सरकार के मुताबिक, इस मैलवेयर का लेटेस्ट वर्जन फिलहाल एक्टिव है, जो बाकी मैलवेयर से ज्यादा स्मार्ट है. यानी यह ऐप खुद को एक नकली ऐप का रूप दे देता है। सरल शब्दों में, मैलवेयर खुद को क्रोम, अमेज़ॅन लोगो जैसे नकली ऐप में बदल देता है। सरकार ने यूजर्स को चेतावनी दी है कि इस तरह के फ्रॉड से बचने के लिए क्या करना चाहिए.

ऐप डाउनलोड करते समय रहें सावधान
कोई भी ऐप डाउनलोड करते समय सावधान रहें। ऐप की रेटिंग और समीक्षाओं को देखा जाना चाहिए। ऐप को गूगल के आधिकारिक स्टोर से डाउनलोड किया जाना चाहिए। इससे खतरनाक ऐप्स डाउनलोड होने का खतरा 90 प्रतिशत तक कम हो जाता है।

फोन को हमेशा अपडेट रखें
एंड्राइड यूजर्स को अपने फोन को हमेशा अपडेट रखना चाहिए। स्मार्टफोन कंपनियां समय-समय पर अपडेट जारी करती रहती हैं।

संवेदनशील नंबरों की जांच करें
एंड्रॉइड यूजर्स को हमेशा सेंसिटिव नंबर चेक करने चाहिए। कुछ आंकड़े हैं जो पीछे मुड़कर देखते हैं। साथ ही, स्कैमर्स ईमेल और फोन के जरिए स्कैम करते हैं, जिन पर नजर रखनी चाहिए।

चेक बैंक एसएमएस
बैंक से आने वाले संदेशों की सावधानीपूर्वक जांच की जानी चाहिए, क्योंकि बैंक संदेशों के माध्यम से धोखाधड़ी के मामले बढ़ रहे हैं। किसी को भी अपना ओटीटी या लॉगिन आईडी साझा नहीं करना चाहिए। साथ ही मैसेज में किसी भी लिंक पर क्लिक न करें।

ईमेल यूआरएल नोट करें
किसी भी यूआरएल पर क्लिक करने से पहले सावधान हो जाएं। भले ही मैसेज ईमेल के जरिए भेजा गया हो या नहीं। हमेशा उन URL पर क्लिक करें जो वेबसाइट डोमेन को स्पष्ट रूप से प्रदर्शित करते हैं।

हमेशा यूआरएल पर ध्यान दें
किसी भी वेबसाइट URL शॉर्टनर bit.ly, tinyurl पर विचार किया जाना चाहिए। सरकार की सलाह है कि उपयोगकर्ताओं को छोटे दिखने वाले URL पर अपना कर्सर मँडरा कर वेबसाइट डोमेन की जाँच करनी चाहिए।

एन्क्रिप्टेड प्रमाणपत्र की जाँच करें
हमेशा जांचें कि एन्क्रिप्ट किया गया प्रमाणपत्र वैध है या नहीं। इसे ब्राउजर के एड्रेस बार में ग्रीन लॉक द्वारा चेक किया जा सकता है। किसी भी संवेदनशील जानकारी जैसे व्यक्तिगत खातों को लॉग करते समय उपयोगकर्ताओं को हमेशा ऐसा करना चाहिए।

बैंक गतिविधि की जाँच करें
बैंकिंग ग्राहकों को हमेशा सलाह दी जाती है कि वे किसी भी उपयोगकर्ता की हर संवेदनशील गतिविधि की निगरानी करें और कुछ गलत होने पर तत्काल कार्रवाई करें।

Back to top button

Adblock Detected

Ad Blocker Detect please deactivate ad blocker