e-sport

Satwik-Chirag nominated for Khel Ratna Award

भारतीय बैडमिंटन पुरुष युगल जोड़ी सात्विक-चिराग को 23 में उनके प्रदर्शन के लिए खेल रत्न पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया

भारत की पुरुष युगल बैडमिंटन जोड़ी सात्विक-चिराग ने 2023 में शानदार प्रदर्शन करते हुए बीडब्ल्यूएफ रैंकिंग में करियर के सर्वोच्च नंबर 1 पर पहुंच गई। सात्विक साईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की गतिशील जोड़ी को इस साल उनके प्रदर्शन के लिए मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार के लिए चुना गया है। इस प्रकार उन्हें बैडमिंटन खिलाड़ियों पीवी सिंधु, साइना नेहवाल और पुलेला गोपीचंद की विशिष्ट सूची में रखा गया।

सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी अपने उल्लेखनीय प्रदर्शन और ऐतिहासिक प्रदर्शन की बदौलत इस सीज़न में बैडमिंटन की दुनिया में निर्विवाद रूप से एक प्रमुख ताकत बन गए हैं। उनके समर्पण और असाधारण कौशल ने उन्हें खेल में शीर्ष पर पहुंचा दिया, जिससे उन्हें बीडब्ल्यूएफ रैंकिंग में दूसरा स्थान मिला।

सात्विक-चिराग ने 2023 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता

इस सीज़न में उनकी महत्वपूर्ण उपलब्धियों में से एक हांग्जो एशियाई खेल 2023 में स्वर्ण पदक जीतना था। पुरुष युगल स्पर्धा में, उन्होंने एशियाई खेलों में बैडमिंटन में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय बनकर इतिहास रच दिया। विरोधियों का सामना करते हुए, दक्षिण कोरिया के चोई सोल-ग्यू और किम वोन-हो ने सीधे गेम में 21-18, 21-16 से जीत हासिल की।

हांग्जो एशियाई खेलों में सफलता पुरुष टीम स्पर्धा में उनके योगदान से संपूरित हुई, जहां भारतीय टीम ने फाइनल में चीन से 2-3 से हारने के बावजूद रजत पदक जीता। विशेष रूप से, सात्विक और चिराग ने चीन के लियांग वेइकेंग और वांग चांग पर सीधे गेमों में 21-15, 21-18 से शानदार जीत दर्ज कर अपना दमखम दिखाया।

BWF वर्ल्ड टूर पर सात्विक-चिराग का खिताब

अपनी उपलब्धियों की सूची में, भारतीय जोड़ी ने बैडमिंटन कोर्ट पर लगातार उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है और बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर पर तीन खिताब जीते हैं। उनकी सफलता एशियाई चैंपियनशिप तक बढ़ी, जहां उन्होंने उत्कृष्ट प्रदर्शन किया।

उनकी यात्रा तब समाप्त हुई जब वे चाइना मास्टर्स सुपर 750 इवेंट के फाइनल में पहुंचे। कड़े प्रयास के बावजूद, उन्हें चीन के लियांग वेइकेंग और वांग चांग के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा और उन्हें 19-21, 21-18, 19-21 से उपविजेता से संतोष करना पड़ा।

हालांकि सात्विक और चिराग ने झटके नहीं रोके. 10 अक्टूबर 2023 को एक ऐतिहासिक क्षण में, वे तीनों युगल प्रारूपों में प्रतिष्ठित विश्व नंबर 1 रैंकिंग हासिल करने वाली पहली भारतीय जोड़ी बन गईं। इस उल्लेखनीय उपलब्धि ने भारतीय बैडमिंटन इतिहास में एक महत्वपूर्ण मोड़ ला दिया, जिसने एकल में अपने पूर्ववर्तियों – प्रकाश पदुकोण, साइना नेहवाल और किदांबी श्रीकांत की उपलब्धियों को पीछे छोड़ दिया।

बैडमिंटन की दुनिया में सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की यात्रा उनके लचीलेपन, कौशल और ऐतिहासिक उपलब्धियों का प्रमाण है, जिन्होंने खेल पर एक अमिट छाप छोड़ी और महत्वाकांक्षी खिलाड़ियों और प्रशंसकों को प्रेरित किया।


Back to top button

Adblock Detected

Ad Blocker Detect please deactivate ad blocker